SBI DEBIT CARD ISSUE : घबराएं नहीं, जल्द इशू करेंगे नए कार्ड

sbi debit card

SBI DEBIT CARD ISSUE : एसबीआई ने ग्राहकों से कहा, घबराएं नहीं, जल्द इशू करेंगे नए कार्ड

विभिन्न बैंकों के करीब 32 लाख डेबिट कार्ड्स के पिन चोरी होने की आशंका की खबरों से मचे हड़कंप के बीच स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को परेशान नहीं होने की सलाह दी है। देश के सबसे बड़े बैंकिंग नेटवर्क ने ग्राहकों से कहा है कि उसने सिर्फ एहतियात के तौर पर कुछ ग्राहकों के डेबिट कार्ड्स ब्लॉक किए हैं। इससे घबराने की जरूरत नहीं हैं।

एसबीआई ने कहा कि कुछ कार्ड्स ऐसे एटीएम पर इस्तेमाल किए गए हैं जहां से मालवेयर के जरिए कुछ जरूरी सूचनाएं चुराए जाने की आशंका है। इन डेबिट कार्ड्स धारक ग्राहकों की वित्तीय सुरक्षा को देखते हुए बैंक ने इन कार्ड्स को ब्लॉक करने का निर्णय लिया है। हालांकि, बैंक ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि जिन ग्राहकों के डेबिट कार्ड्स को ब्लॉक किया गया है उन्हें जल्द ही दूसरे नए कार्ड इशू कर दिए जाएगें।

जानकारों के मुताबिक, देश के वित्तीय आंकड़ों की सुरक्षा में यह अब तक की सबसे बड़ी सेंधमारी है। बताया जा रहा है कि एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, यस बैंक और ऐक्सिस बैंक इसके सबसे बड़े शिकार बने हैं। जिन 32 लाख कार्डों के पिन चोरी होने की आशंका है, उनमें करीब 26 लाख वीजा और मास्टर कार्ड हैं जबकि बाकी के 6 लाख रुपे कार्ड हैं। इनमें कुछ कार्ड्स का चीन में कुछ जगहों पर अनाधिकार इस्तेमाल हुआ है।

कहा जा रहा है कि हिटाची पेमेंट सर्विस सिस्टम से जुड़े एटीएम का इस्तेमाल करने वाले लोगों के पिन चोरी हुए हैं। हिटाची पेमेंट सर्विस यस बैंक के लिए ATM नेटवर्क चलाती है। यह मामला इसी साल जुलाई के महीने में सामने आया था। कुछ जानकारों ने कहा कि जिस तरह एसबीआई ने बड़ी संख्या में नए डेबिट कार्ड इशू करने का फैसला लिया है उससे लगता है कि मालवेयर ने कार्ड के हार्डवेयर सिक्यॉरिटी मॉड्यूल तक पहुंच बना ली है जहां से कार्ड की जानकारी और पिन नंबर जाना जा सकता है। गोपनीय सूचनाएं चोरी होने की आशंका के मद्देनजर, कई बैंकों ने ग्राहकों को अपने ATM पिन नंबर बदलने को भी कहा है।

स्रोत : इकनॉमिक टाइम्स

SHARE