RPSC : व्याख्याताओं की नियुक्ति में नहीं होगा विलंब

shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in

RPSC : व्याख्याताओं की नियुक्ति में नहीं होगा विलंब

राजस्थान लोक सेवा आयोग RPSC से व्याख्याता पदों पर सीधी भर्ती से चयनित अभ्यर्थियों को जल्द से जल्द नियुक्ति देने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए शिक्षा निदेशालय ने आयोग से समन्वय कर चयनित अभ्यर्थियों की पात्रता की जांच अजमेर स्थित आयोग परिसर में ही करवाने की व्यवस्था की है।

इस काम के लिए निदेशालय स्तर पर पांच सदस्यों की टीम गठित की गई। टीम के सदस्य सोमवार को अजमेर के लिए रवाना हो गए है। माध्यमिक शिक्षा निदेशक बी.एल.स्वर्णकार ने बताया कि अब तक चयनित अभ्यर्थियों के आवेदन शिक्षा निदेशालय भेजे जाते थे जिनकी पात्रता की जांच निदेशालय में होने के बाद आयोग पात्र अभ्यर्थियों को नियुक्ति की अभिशंषा करता था। चयनित अभ्यर्थियों को जल्द से जल्द नियुक्ति देने के लिए यह नई व्यवस्था की गई है।

अब परिणाम जारी होने के साथ ही आयोग स्तर पर अभ्यर्थियों की पात्रता की जांच शुरू हो जाएगी। इस काम के लिए संयुक्त निदेशक कार्मिक विजय शंकर आचार्य को प्रभारी अधिकारी और उपनिदेशक माध्यमिक अरुण शर्मा को समन्वयक नियुक्त किया गया है। गौरतलब है कि आयोग ने व्याख्याताओं के विभिन्न विषयों के 13098 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए गत जुलाई माह परीक्षा करवाई गई थी। आयोग की ओर से अब तक चार विषयों का परिणाम घोषित किया जा चुका है।

संयुक्त निदेशक कार्मिक विजय शंकर आचार्य बताया कि आवेदन पत्रों की जांच के बाद पात्र अभ्यर्थियों को संबंधित विषय में काउंसलिंग के जरिये पदस्थापन दिया जाएगा। काउंसलिंग शिक्षा निदेशालय में होगी।

SHARE