एकल पुत्री स्‍कॉलरशिप आवेदन 31 अगस्‍त तक Post-Graduate Indira Gandhi Scholarship for Single Girl Child For PG Programs

RajasthanShiksha.com is a News portal for Society, Schools, Students and Teachers. Every update from Education Department of Rajasthan. It includes Government and Private Schooling system as well.
RajasthanShiksha.com is a News portal for Society, Schools, Students and Teachers. Every update from Education Department of Rajasthan. It includes Government and Private Schooling system as well.

एकल पुत्री स्‍कॉलरशिप आवेदन 31 अगस्‍त तक

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन की ओर से ऑल इंडिया लेवल पर एकल पुत्रियों के लिए छात्रवृत्ति इंदिरा गांधी स्‍कॉलरशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड छात्राओं के लिए है। योजना के तहत स्‍नातकोत्‍तर अध्‍ययन के लिए आवेदन किया जा सकता है। Post-Graduate Indira Gandhi Scholarship for Single Girl Child For PG Programs में आवेदन की आखिरी तारीख 31 अगस्‍त 2016 है।

इसके अंतर्गत मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेजों से नॉन-प्रफेशनल पोस्ट ग्रेजुएशन रेग्युलर फुल टाइम कोर्स में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को शामिल किया गया है। एकल पुत्री छात्राओं  जिन्होंने इस साल अपनी स्‍नातक की परीक्षा पास कर ली हो और मास्टर डिग्री या पोस्ट ग्रेजुएशन में नियमित प्रवेश लिया हो, वे सभी छात्राएं आवेदन कर सकती हैं।

ऐसी छात्राएं भी आवेदन कर सकती हैं जो जुड़वां बहनें या जुड़वां भाई-बहन हो और उनकी उम्र तीस वर्ष अथवा इससे कम हो

छात्रवृत्ति के लिए हर साल आए आवेदनों के स्‍लॉट की संख्या के आधार पर फैसला किया जाता है कि कितने स्टूडेंट्स को स्‍कॉलरशिप मिलेगी, च‍यनित छात्राओं को नॉन-प्रोफेशनल पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स करने के लिए दो साल तक प्रतिमाह 3,100 रुपये की दिए मिलेंगे।

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन की सलेक्शन कमेटी छात्रवृत्ति के लिए छात्राओं का चुनाव मेरिट और पोस्ट ग्रेजुएशन में उसकी परफ़ॉर्मेंस के आधार पर करेगी। अगर कोई छात्रा अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ना चाहती है, तो उसे पहले यूजीसी से इसकी अनुमति लेनी पड़ेगी। ऑनलाइन आवेदन के लिए विभाग की वेबसाइट www.ugc.ac.in/sgc पर डॉक्‍यूमेंट्स के साथ आवेदन किया जा सकता है।


वेबसाइट के अनुसार

It is observed that number of girls as against boys in certain states is declining which is a matter of great concern. The females are even forced to give birth to male child. In such circumstances education of women needs to be used and effective means for their empowerment and education will prepare them to have a control over their lives. The mindset which militates against the girl child could not keep pace with economic progress and literacy. The Govt. of India declared elementary education as a basic human right of every child. The Union Government of India has taken various steps to uplift the status of women by implementing various schemes including free education for girls.

In order to achieve and promote girls education, UGC has introduced a Post Graduate Indira Gandhi Scholarship for Single Girl Child with an aim to compensate direct costs of girl education to all levels especially for such girls who happen to be the only girl child in their family.

SHARE