शिक्षा निदेशक के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश

shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in
shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in

शिक्षा निदेशक के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश

बीकानेर : फर्जी कूटरचित एवं मनगढ़त जांच तैयार का कार्मिक की सेवा समाप्ति के मामले में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट संख्या दो मधु हिसारिया ने सदर पुलिस को जांच कर शिक्षा निदेशक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

शिक्षा निदेशालय के कनिष्ठ लिपिक कृष्णकुमार प्रजात की 30 वर्ष की सेवा करने के बाद बिना कोई कारण के फर्जी, मनगढ़त एवं कूटरचित दस्तावेज तैयार कर एकतरफा कार्रवाई करते हुए समाप्ति की कार्रवाई की। पीडि़त ने न्यायालय में परिवाद पेश किया।

परिवाद के अनुसार कृष्ण कुमार 1984 में मृत आश्रित अनुकंपा के तौर पर शिक्षा विभाग में कनिष्ठ लिपिक पद पर कार्यरत था। विभाग ने उसके समस्त दस्तावेज एवं मूल शैक्षणिक प्रमाण-पत्र सत्यापन करने के बाद ही स्थायीकरण किया था।

कृष्ण कुमार की ओर से सेवा काल के 27वें चयनित वेतनमान की मांग करने पर निदेशालय एवं उसके अधीनस्थ कर्मचारियों ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर उसके विरुद्ध 30 वर्ष पूर्व की शिकायत को आधार मानकर उसकी सेवा समाप्त कर दी।

न्यालालय ने माध्यमिक शिक्षा निदेशक बीएल स्वर्णकार एवं जांच अधिकारी भंवरलाल बिश्नोई के खिलाफ सदर थानाधिकारी को सीआरपीसी 202 के तहत जांच कर शीघ्र जांच नतीजा प्रस्तुत करने के आदेश दिए हैं।

SHARE