‘विद्यार्थी दिवस’ आज : कलाम का जन्म दिवस

डॉ. कलाम के जन्म दिन को ‘विद्यार्थी दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा

राज्य के विद्यालयों में शनिवार, 15 अक्टूबर को पूर्व राष्ट्रपति एवं मिसाइलमैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का जन्मदिन विद्यार्थी दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

शिक्षा राज्य मंत्री प्रो. वासुदेव देवनानी ने बताया कि विद्यालयाें में इस दिन विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस दिन विद्यालयो में सृजनात्मक गतिविधियों के साथ ही बच्चों के लिए संस्था प्रधानों द्वारा विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।

इस दिन विद्यार्थियों की नेतृत्व क्षमता, उनके बौद्धिक कौशल को विकसित करने जैसे आयोजन विद्यालयों में होंगे। उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एवं मिसाइलमैन डॉ. कलाम को विद्यार्थियों से बहुत प्यार था। इसी के कारण उनका जन्म दिन राज्य में विद्यार्थी दिवस के रूप में मनाने की राजस्थान में पहल हुई है।

उन्होंने डॉ. कलाम के व्यक्तित्व से प्रेरणा लेने का आह्वान किया तथा कहा कि इसी से देश की भावी पीढ़ी महान् वैज्ञानिक एवं व्यक्तित्व के धनी कलाम के सपनों को साकार कर सकेगी। उल्लेखनीय है कि डॉ. कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को रामेश्वरम में हुआ था और 27 जुलाई, 2015 को शिलांग में एक कार्यक्रम के दौरान उनका निधन हो गया था। डॉ. कलाम हमेशा विद्यार्थियों के मध्य रहे। अंतिम सांस भी उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए ली थी। शिक्षा राज्य मंत्री की शुभकामनाएं शिक्षा राज्य मंत्री प्रो. वासुदेव देवनानी ने डॉ. अब्दुल कलाम आजाद के जन्म दिवस पर विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी है।

उन्होंने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि प्रदेश के विद्यार्थी खूब पढ़ें और विकास की नई ऊंचाईयां छूए।

SHARE