प्राइवेट स्‍कूल : फीस के लिए प्रताडि़त किया तो होगी कठोर कार्रवाई

student harassment in private school for fees

प्राइवेट स्‍कूल : फीस के लिए प्रताडि़त किया तो होगी कठोर कार्रवाई

बीकानेर। प्राइवेट स्‍कूलों में समय पर फीस नहीं जमा कराने पर बच्‍चों को बुरी तरह प्रताडि़त किया जाता है, कभी अकेले में प्रिंसीपल के कमरे में बुलाकर तो कभी अन्‍य बच्‍चों के सामने खड़ा करके उन्‍हें जलील किया जाता है। अब राज्‍य सरकार ने प्राइवेट स्‍कूलों के ऐसे रेवैये के खिलाफ कठोर कदम उठाने की तैयारी कर ली है।

हाल ही में राजस्‍थान राज्‍य बाल संरक्षण आयोग ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर इस बाबत सूचना एकत्रित करने के लिए कहा है। इसमें स्‍पष्‍ट किया गया है कि फीस के लिए बच्‍चों की प्रताड़ना किसी सूरत में उचित नहीं है। आदेश में कहा गया है कि माता पिता अथवा अभिभावकों द्वारा समय पर फीस नहीं जमा कराए जाने पर प्राइवेट स्‍कूल का प्रबंधन छात्रों को अन्‍य बच्‍चों के सामने खड़ा कर फीस नहीं जमा कराए जाने पर प्रताडि़त करते हैं। इससे छात्रों की मानसिकता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

जिला शिक्षा अधिकारियों ने भी प्रारंभिक ब्‍लॉक शिक्षा अधिकारियों को आयोग के निर्देश के अनुसार आदेश दिया है कि वे अपने ब्‍लॉक के निजी विद्यालयों की जांच करे और इस संबंध में कोई प्रकरण हो तो उसके बारे में सूूचित करे। इन प्रकरणों के बारे में आयोग को इत्तिला दी जाएगी। इस बाबत कठोर कार्रवाई का प्रावधान है।

डूंगरपुर के प्रारंभिक जिला शिक्षा अधिकारी ने हाल ही में अपने ब्‍लॉक जिला शिक्षा अधिकारियों को परिपत्र जारी कर अपने अपने क्षेत्र के निजी विद्यालयों का निरीक्षण करने और इस कार्य को सर्वोच्‍च प्राथमिकता से अंजाम देने के निर्देश दिए हैं।

SHARE