खुशी केन्‍द्रों पर पेजयल और बिजली कनेक्‍शन

504 ’खुशी’ बाल विकास केन्द्रो का सुदृढीकरण
504 ’खुशी’ बाल विकास केन्द्रो का सुदृढीकरण

खुशी केन्‍द्रों पर पेजयल और बिजली कनेक्‍शन

हिन्दुस्तान जिंक के सहयोग से 504 ’खुशी’ बाल विकास केन्द्रो का सुदृढीकरण का शुभारंभ

राजसमंद आंगनवाडी की महिलाएं पन्नाधाय बनकर बच्चों के संपूर्ण विकास की सकारात्मक भूमिका निभा पुण्य कमाएं, हिन्दुस्तान जिंक के खशी अभियान से निश्चित तौर पर आगंनवाडी के बच्चों के स्वास्थ्य और उनमें गुणात्मक सुधार आएगा एवं खुशी बाल विकास केन्द्र सामुदायिक गतिविधियों का केन्द्र बनकर उभरेंगें।

ये बात महिला एवं बाल विकास मत्री श्रीमति अनिता भदेल ने सोमवार को गायत्री शक्तिपीठ के सभागार में खुशी बाल विकास केन्द्रों के शुभारंभ अवसर पर कही। उन्होंने हिन्दुस्तान जिंक के खुशी कार्यक्रम के लिये आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रत्येक आंगनवाडी कार्यकर्ता पन्नाधाय की तरह आंगनवाडी के प्रत्येक बच्चें की देखभाल करें।

उन्होंने सभी बच्चों के प्रति समान मातृत्व भाव रखने का आव्हान करते हुए आंगनवाडी सहायिकाओं से अपनी पूर्ण जिम्मेदारी निभाते हुए बच्चों के स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं सुपोषण को सुनिश्चित करने को कहा। भदेल ने जल्द ही जिले की आंगनवाडियों की स्थिति में सुधार एवं मरम्मत हेतु आश्वस्त किया।

कार्यक्रम म जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने घोषणा की कि राजसमंद की 504 खुशी आंगनवाडी केन्द्रों को प्रथम चरण में पेयजल की सुविधा उपलब्ध होगी साथ ही उन्होंने इन केन्द्रों पर पंचायत के माध्यम से जल्द ही बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया। माहेश्वरी ने हिन्दुस्तान जिंक को साधुवाद देते हए कहा कि खुशी एवं अन्य आंगनवाडी केन्द्रों की कार्यकर्ता यशोदा बन कर बच्चों की देखभाल करें। उन्होंने श्रीमती भदेल से राजसमंद जिले की आंगनवाडियों की स्थिति में सुधार की मांग रखी।

उल्लेखनयी है कि हिन्दुस्तान जिंक ने राजस्थान सरकार से उदयपुर, राजसमंद, चित्तौडगढ, भीलवाडा एवं अजमेंर जिलों की 3055 आंगनवाडियों को सुदृढ बनाने के लिये तथा 6 वर्ष से कम की आयु के ग्रामीण बच्चों को सुपोषण, शिक्षा व स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए गोद लिया है। राजसमंद के खमनोर, रेलमगरा और ग्रामीण की 504 आंगनवडियों को सुदृढ बनाने के लिये हिन्दुस्तान जिंक ने जतन संस्थान को अनुबंधित किया है।

इस अवसर पर जिला कलेक्टर श्रीमती अर्चना सिंह ने आंगनवाडी कार्यकर्ताओं से खुशी बांटने का आव्हान करते हुए कहा कि वे जिम्मेदारी और अपनत्व से बच्चों में जागरूकता लाएं। उन्होंने कहा कि आंगनवाडी में किसी प्रकार की समस्या सामने आने पर उसे प्राथमिकता से हल किया जाएगा।

हिन्दुस्तान जिंक के हेड कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन एवं खुशी अभियान के फाउण्डर पवन कौशिक ने बताया कि खुशी अभियान के माध्यम से ना सिर्फ हिन्दुस्तान जिंक ग्रामीण बच्चों के स्वास्थ्य शिक्षा व पोषाहार में परिवर्तन लाएगा बल्कि वंचित बच्चों के प्रति संपूर्ण भारत में जागरूकता भी पैदा कर रहा है। सोशल मिडिया पर खुशी अभियान वंचित बच्चों की आवाज बन कर उभरा है जिससे लाखो लोग जुडे है। हाल ही में वंचित बच्चों के लिए कार्यशाला आयोजित की जिसमें 150 से अधिक बच्चों ने भाग लिया एवं शिक्षा से जुडने की इच्छा जताई।

कार्यक्रम में सभी अतिथियों ने खुशी अभियान का रिबन खोल कर शुभारंभ किया साथ ही जतन संस्थान के बाल उपहार संकलन अभियान बच्चों की दुनियां एवं गायत्री शक्तिपीठ बेटी पढाओं बेटी बचाओं अभियान संदेशिका का अनावरण भी किया गया। प्रतिकात्मक रूप में भादोला आंगनवाडी की कार्यकर्ता को खिलौना बैंक के तहत् खिलौने भी सौंपे गये।

जतन संस्थान के निदेशक डॉ कैलाश बृजवासी ने परियोजना में उद्द्घेश्यों एवं उनके क्रियान्वयन के बारे में अवगत कराया। कार्यक्रम में हिन्दुस्तान जिंक की सीएसआर हैड श्रीमति निलिमा खेतान, जिला प्रमुख परेश सालवी, उपजिला प्रमुख सफलता गुर्जर, सभापति सुरेश पालीवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष भंवरलाल शर्मा, उपसभापति अर्जुन मेवाडा, मुख्यकार्यकारी अधिकारी जिला परिषद सीआर मीणा, कार्यकारी उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास गोविन्द सिंह राणावत सहित हिन्दुस्तान जिंक व प्रशासनिक अधिकारी एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि एवं आगंनवाडी कार्यकर्ता मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन जतन संस्थान के ओमप्रकाश गायरी ने किया एवं अंत में रणवीर सिंह ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

SHARE