स्कूली हॉफ ड्रेस बच्चों में फैला रही डेंगू-चिकनगुनिया

shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in

स्कूली हॉफ ड्रेस बच्चों में फैला रही डेंगू-चिकनगुनिया

रोज राजस्थान के 5 हजार बच्चे पॉजीटिव

राजधानी के हजारों निजी स्कूलों में पढ़ रहे लाखों छोटे बच्चों पर स्कूल की हॉफ ड्रेस डेंगू और चिकनगुनिया की मार कर रही है। इस समय 50 फीसदी से भी ज्यादा निजी स्कूलों की ड्रेस हॉफ है।

जिसके कारण इन बीमारियों के मच्छर छोटे बच्चों को निशाना बना रहे हैं। इक्का दुक्का स्कूलों ने इस स्थिति को देखते हुए ड्रेस कोड में बदलाव कर फुल कर दी है। लेकिन अभी भी 99 फीसदी स्कूल इस बड़ी चिंता से अनभिज्ञ बने हुए हैं।

जबकि शिशु रोग विशेषज्ञों सहित मेडिसिन रोग विशेषज्ञों के अनुसार इन दोनों बीमारियों के मच्छरों से बचने के लिए पूरे कपड़े पहनना सर्वाधिक आवश्यक है। खासतौर पर बच्चों के लिए।


फैक्ट फाइल

  • 3 बच्चों की हाल ही में जयपुर शहर में डेंगू से हो चुकी है मौत
  • 5 हजार बच्चे रोजाना डेंगू, चिकनगुनिया के लक्षणों सहित मौसमी बीमारियों से पीडि़त होकर पहुंच रहे अस्पताल
  • 4 हजार करीब छोटे बड़े निजी स्कूल हैं राजधानी में
  • 8 लाख से अधिक बच्चे पढ़ रहे हैं शहर के स्कूलों में
  • 35 हजार करीब निजी स्कूल हैं प्रदेश में
  • 1 करोड़ करीब बच्चे पढ़ रहे हैं प्रदेश के निजी स्कूलों में

इसलिए खतरा अधिक

  • डेंगू और चिकनगुनिया का मच्छर दिन में काटता है
  • एक बच्चे को काटने पर वह मच्छर कई बच्चांे को काट सकता है.
SHARE