बांसवाड़ा : शिक्षकों ने जानी पढ़ाने की नई तकनीक

shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in

बांसवाड़ा : शिक्षकों ने जानी पढ़ाने की नई तकनीक

बांसवाड़ा : प्रारंभिक शिक्षा विभाग के तहत उत्कृष्ट स्कूलों में ई-लर्निंग के तहत गणित,विज्ञान और अंग्रेजी पढ़ाने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं ने बुधवार को गायत्री गार्डन में आयोजित कार्यशाला में नई तकनीक जानी। अजीम प्रेमजी फाउंडेशन की ओर से नवीन गतिविधियों और शिक्षण की विधाओं के बारे में बताया गया।

बीईईओ प्रकाश पंड्या और दीनबंधु भट्ट की मौजूदगी में कार्यशाला में रोचकता के साथ पढ़ाने पर जोर दिया गया। शिक्षकों को स्वयं और विषय वस्तु को किसी किसी घटना,उदाहरण से जोड़ते हुए पढ़ाने की बात कही गई। बीईईओ पंड्या ने बताया कि शिक्षकों के समूह बनाए गए थे। इसमें सभी विषयाध्यापक शामिल थे।

इनकी अलग से बैठक कर चर्चा की गई कि किस टॉपिक को बेहतर ढंग से बच्चों के सामने रखने के लिए क्या क्या जरूरतें हो सकती है। विज्ञान विषय के विशेषज्ञ समूह में दीनबंधु भट्ट के नेतृत्व में अनिता गरासिया, नीलांजना चौबीसा तथा दिलीप आचार्य ने प्रकाश परावर्तन और अपवर्तन विषय पर एक घंटे की प्रस्तुति दी। गणित विषय में उमंग पंड्या के निर्देशन में जितेंद्र पंचोली और विपुल मेहता ने विश्व गणित की प्रणेता वैदिक गणित के बारे में बताया। अंग्रेजी विषय को लेकर डॉ.धीरज जोशी ने रचनात्मक लेखन विषय पर प्रस्तुति दी।

फाउण्डेशन के प्रतिनिधि रमेश ने संस्मरण, रोचक प्रसंगों और प्रेरणास्पद वीडियो क्लिप्स के जरिए तकनीकी त्रिवेणी प्रवाहित की। फाउण्डेशन के प्रियंक श्रीवास्तव, माया तथा अदिति ने इस आयोजन को रोचक और उपयोगी बनाया।

SHARE