प्रदेश के 4 विवि के लिए 80 करोड़ का अनुदान

shivira shiksha vibhag rajasthan shiksha.rajasthan.gov.in

सुविवि के साथ प्रदेश के 4 विवि के लिए 80 करोड़ का अनुदान, MHRD ने रूसा के तहत किया स्वीकृत

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान योजना (रूसा) के तहत प्रदेश के चार विश्वविद्यालयों (विवि) को 80 करोड़ रुपए का अनुदान स्वीकृत किया है, जिसका उपयोग इंफ्रास्ट्रक्चर, मेंटेनेंस, स्मार्ट क्लास रूम, लैब व कम्प्यूटर सुविधा विकसित करने के लिए किया जाएगा। इससे विश्वविद्यालयों में विद्यार्थियों के गुणवत्तापूर्ण शोध व शिक्षण के लिए उच्च स्तरीय सुविधाएं मुहैया कराई जा सकेंगी।

मोहनलाल सुखाडि़या विश्वविद्यालय उदयपुर, राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर, महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय अजमेर और जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय जोधपुर के लिए रूसा के तहत बीस-बीस करोड़ रुपए का अनुदान स्वीकृत किया गया है। शुक्रवार को सुखाडि़या विश्वविद्यालय को अनुदान की पहली किस्त के रूप में 5 करोड़ रुपए की राशि जारी कर दी गई।

18 से 25 करना होगा एनरोलमेंट प्रतिशत

मंत्रालय के सर्वे में सामने आया कि सबसे युवा देश होने के कारण भविष्य में युवाओं के लिए विश्व में रोजगार अवसर काफी बढ़ जाएंगे। विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में एनरोलमेंट सिर्फ 18 प्रतिशत है। विश्व प्रतिस्पद्र्धा में शामिल होने के लिए इसका प्रतिशत बढ़ाकर 25 प्रतिशत करने की महती आवश्यकता है। शिक्षण और शोध की गुणवत्ता में सुधार भी बेहद जरूरी है। विश्व की टॉप 200 यूनिवर्सिटी में एक भी भारतीय विश्वविद्यालय शामिल नहीं है। अत: स्टेट हायर एजुकेशन कौंसिल का गठन करने वाले राज्यों को ही रूसा के तहत अनुदान देने की प्रस्तावना तैयार की गई है।

एेसे होगा उपयोग

विश्वविद्यालय अनुदान की 35 प्रतिशत राशि का भवन निर्माण, 35 प्रतिशत का मेंटेनेंस एवं शेष 30 प्रतिशत राशि का कम्प्यूटर, स्मार्ट क्लास रूम, लैब, सेमिनार हॉल आदि कार्यों में उपयोग कर सकेंगे।


अनुदान से विश्वविद्यालय के इंफ्रास्ट्रक्चर में काफी सुधार होगा। विद्यार्थियों को आधुनिक लैब, स्मार्ट रूम आदि सुविधाएं मुहैया कराई जा सकेंगी।

प्रो. कणिका शर्मा, रूसा नोडल प्रभारी सुखाडि़या विवि

SHARE