झुंझुनूं : पीएम मोदी का ख्वाब पूरा करने में जुटी है 7वीं कक्षा की छात्रा

sikar झुंझुनूं

झुंझुनूं : पीएम मोदी का ख्वाब पूरा करने में जुटी है 7वीं कक्षा की छात्रा

चिड़ावा (झुंझुनूं) : पीएम नरेन्द्र मोदी स्वच्छ भारत का ख्वाब देख रहे हैं। उनके इसी ख्वाब को पूरा करने में जुटी है सातवीं कक्षा की छात्रा अंकिता। 11 वर्षीय अंकिता ने राजस्थान के झुंझुनूं जिले की चिड़ावा उपखण्ड के गांव सुलताना में अनूठी मुहीम छेड़ रखी है। गांव में जो भी व्यक्ति खुले में शौच करने जाता दिखता तो उसे अंकिता स्वच्छता के प्रति जागरूक कर रही है। वो भी गांधीगिरी तरीके से। किसी के हाथ जोड़कर तो किसी पैर छूकर। अंकिता का यह प्रयास रंग भी ला रहा है।

अंकिता ने सुलताना गांव में एक शिकायत पेटिका लगाई है, जिसमें कोई भी व्यक्ति खुले में शौच करने वाले के खिलाफ शिकायत दे सकते है। सुलताना गांव के अटल सेवा केंद्र के बाहर लगी इस शिकायत पेटिका का गुरुवार देर शाम पंस के विकास अधिकारी राजेंद्र जोईया एवं अंकिता ने उद्घाटन किया। इस दौरान सरपंच रेखा सैनी, पीओ रणसिंह व दारासिंह, ग्राम सेवक श्याम लाल सैनी, युधिष्ठर शर्मा आदि मौजूद थे।

जिले में यह पहला प्रयोग

जिले में ऐसी पहली शिकायत पेटिका लगी है। हर सप्ताह इस पेटिका को खोला जाएगा तथा मिलने वाली शिकायतों पर एक कमेटी बनाई गई है, जिसमें सरपंच, पंच, ग्राम सेवक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अंकिता के साथ गांधीवादी तरीके से खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए उनसे समझाइश करेगी। पेटिका में शिकायत करने वाले जागरूक लोगों को अंकिता की ओर से प्रशंसा पत्र एवं प्रतीक चिन्ह भेंटकर स्वागत किया जाएगा।

आठ-नौ माह से कर रही है प्रयास

टीवी पर स्वच्छता को लेकर फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन एवं एक बच्चा विज्ञापन में स्वच्छता के प्रति जागरूक करते हुए नजर आते हैं। लेकिन इस विज्ञापन के जारी होने से पहले ही एक महज ग्यारह वर्ष की आयु में स्वच्छता के प्रति बेहद जागरूक अंकिता स्वच्छता अभियान को लेकर काफी प्रभावित हैं तथा पिछले आठ-नौ माह से इस मुहिम का हिस्सा बनकर सुलताना को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए प्रयासरत हैं।

लोगों को खुले में शौच नहीं करने की शपथ भी दिलाई

इस मुहिम में लगने वाले पैसे वो अपने जेब खर्च से ही जुटाती है तथा ज्यादा पैसों की जरूरत होने पर अपनी माता सरोज देवी-पिता वीरेंद्र सिंह से मदद लेती हैं। अंकिता ने इसी दीपावली पर मोमबत्ती जलाकर लोगों को खुले में शौच नहीं करने की शपथ भी दिलाई थी। अंकिता अपने बड़ों के पैर छूकर उनसे खुले में शौच नहीं जाने की अपील करती हैं तो वहीं अपनी उम्र के बच्चों को माला भेंटकर उनसे स्वच्छता की मुहिम में जुडऩे के लिए प्रेरित करती हैं।

मुहीम के लिए हो चुका है सम्मान

सुलताना के निजी विद्यालय में कक्षा सात में अध्यनरत अंकिता पढ़ाई के साथ-साथ स्वच्छता मुहिम के लिए भी समय निकालती है। उनके इसी जज्बे तथा उनके स्वच्छता के प्रति किए गए कार्यों को लेकर मुख्यमंत्री ने अंकिता को प्रशंसा पत्र भेजकर उनके कार्यों की प्रशंसा भी की थी। इसी प्रकार एसडीएम राजीव आचार्य की अगुवाई में बीडीओ राजेंद्र जोईया, बीईईओ पितराम काला उनके विद्यालय में जाकर भी सम्मानित कर चुके हैं।

SHARE