कोटा : यहां एक दिन इंडियन ड्रेस में आते हैं स्टूडेंट, रैगिंग से बचाते हैं सीनियर्स

SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan
SHIVIRA Shiksha Vibhag Rajasthan

कोटा : यहां एक दिन इंडियन ड्रेस में आते हैं स्टूडेंट, रैगिंग से बचाते हैं सीनियर्स

कोटा : आईआईटी की तर्ज पर राजस्थान टेक्नीकल यूनिवर्सिटी में सीनियर छात्रों ने जूनियर्स को रैगिंग, गुटबाजी और तनाव से बचाने के लिए मेंटरशिप प्रोग्राम चला रखा है। यूनिवर्सिटी कॉलेज आॅफ इंजीनियरिंग की इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांच में 10 जूनियर छात्रों की जिम्मेदारी एक सीनियर छात्र के पास है।

हालांकि आईआईटी में मेंटरशिप प्रोग्राम वहां बढ़ती अप्रिय घटनाओं को रोकने और स्ट्रेस लेवल कम करने के लिए चल रहा है। वहीं, इस कॉलेज में स्ट्रेस लेवल के साथ साथ फ्रेशर्स को रैगिंग से बचाना भी उद्देश्य है। पिछले 10 साल से यह ट्रेंड चल रहा है। अब इसी ब्रांच के छात्रों ने रैगिंग, जातिवाद, इंडियन कल्चर को प्रमोट करने, कैंपस को राजनीतिक हस्तक्षेप से दूर रखने और छात्रों की मदद करने के लिए 3 सितंबर को रन ऑफ यूनिटी के आयोजन का कदम उठाया है। यह दौड़ सुबह सवा 9 बजे से डायरेक्टर ऑफिस से शुरू होगी। इसमें सभी विभागों के छात्रों को बुलाया गया है।

प्रवेश के साथ ही पैरेंट्स को बताते हैं, क्या करें और क्या न करें

यहां छात्रों के वी आर वन ग्रुप ने इस साल फ्रेशर्स को अभिभावकों के सामने ही एक कार्ड दिया है। इसमें सलाह दी गई है कि कैंपस में क्या करें और क्या न करें। कार्ड के पीछे फोर्थ ईयर के दो, थर्ड ईयर के छह और सेकंड ईयर के दो छात्रों के मोबाइल नंबर दिए हैं। इस पर छात्र किसी भी समस्या को लेकर कभी भी फोन कर सकता है।

सप्ताह में एक दिन पहनते हैं भारतीय परिधान

विभाग के छात्र अपनी इच्छा से एक दिन भारतीय परिधान पहनकर आते हैं। यूं तो यह परंपरा हाल में यूनिवर्सिटी के कनवोकेशन में शुरू की गई है, लेकिन इस ब्रांच में लंबे समय से चल रही है। छात्र कुर्ता पायजामा और छात्राएं सलवार कुर्ता पहनकर आती हैं। इसका मकसद भारतीय परिधानों को भी प्रमोट करना है।

SHARE